Motivational Story In Hindi – पत्थर की कीमत

admin
5 Min Read

किसी ने क्या खूब लिखा है कि, जो गिसता है वह चमकता है अर्थात जो इंसान अपने लक्ष्य को लेकर ज्यादा मेहनत करता है वह कभी न कभी तो कामयाब जरूर होता है। नमस्कार दोस्तों हाजिर है आपके लिए ऐसी ही शानदार Motivational Story In Hindi – पत्थर की कीमत कहानी जिसे पढ़कर जरूर आपको खुशी होगी।

बहुत समय पहले विनयगढ़ नामक गांव में प्रतापी और ज्ञानी साधु महाराज आए हुए थे। हररोज उनके पास लोग आते और अपने दुखो की कहानी सुनाते ताकि साधु महाराज की कृपा प्राप्त हो और उनके सारे सुख खतम हो जाए। रोज की तरह एक बहुत ही गरीब इंसान महाराज के पास आया और कहने लगा।

 

 

“महाराज में बहुत ही गरीब हूँ, मेरे ऊपर कर्जा भी बहत बढ़ गया है, इस समय मैं बहुत ही परेशान हूँ। मुझ पर कुछ उपकार करें” गरीब की बात सुनते ही साधु महाराज ने उसको एक चमकीला और नीले रंग का एक पत्थर दिया, और कहा ‘कि यह पत्थर बहुत ही कीमती है, जाओ जितनी कीमत लगवा सको लगवा लो।

Motivational Story In Hindi – पत्थर की कीमत

चमत्कारी पत्थर लेने के बाद वो आदमी उसे बचने के इरादे से वहां से चला गया और अपने जान पहचान वाले एक फल बेचने वाले के पास गया और उस पत्थर को दिखाकर उसकी कीमत के बारे में पूछने लगा।

 

 

फल बेचने वाला बहुत ही शातिर दिमाग वाला था चटकारी पत्थर देखते ही बोला की ‘मुझे लगता है ये नीला शीशा है, महात्मा ने तुम्हें ऐसे ही दे दिया है, हाँ यह आचार्य चकित और चमकदार दिखने वाला पत्थर तुम मुझे दे दो, इसके बदले में मैं तुम्हें 1000 रुपए दे दूंगा।

ज्ञानी साधु के द्वारा दिए गए पत्थर की 1000 रुपए कीमत मिलने पर वह बहुत नाखुश हुआ। वो आदमी निराश होकर अपने एक अन्य जान पहचान वाले के पास गया जो की एक बर्तनों का व्यापारी था. उनसे उस व्यापारी को भी वो पत्थर दिखाया और उसे बचने के लिए उसकी कीमत जाननी चाही।

बर्तनो का व्यापारी बोला ‘यह पत्थर कोई विशेष रत्न है में इसके तुम्हें 10,000 रुपए दे दूंगा. वह आदमी सोचने लगा की फल बेचने वाले वेपरी ने मुझे इस पत्थर की कीमत सिर्फ 1000 कही थी और बर्तन का व्यापारी इसी पत्थर की कीमत मुझे 10,000 दे रहा है। इसके कीमत और भी अधिक होगी और यह सोच वो वहां से भी आगे चला आया।

गरीब आदमी सोच रहा था कि इस पत्थर से में बहुत पैसा कमाऊंगा उस आदमी ने इस पत्थर को अब एक सुनार को दिखाया, सुनार ने बहुत ही ध्यान से उस पत्थर को देखा और बोला ये काफी अमूल्य और कीमती है इसके बदले में मैं तुम्हें 1,00,000 रूपये दे दूंगा।

वो आदमी अब पूरी तरह से सोच में पड़ गया था और धीरे धीरे समझ गया था कि यह पत्थर कोई आम पत्थर नहीं है यह तो बहुत अमुल्य है, उसने सोचा क्यों न मैं इसे हीरे के व्यापारी को दिखाऊं, यह सोच वो शहर के सबसे बड़े हीरे के व्यापारी के पास गया।

शहर के सबसे बड़े हीरे के व्यापारी ने जब वो पत्थर देखा तो देखता रह गया, चौकने वाली कीमत उसके चेहरे पर दिखने लगे. व्यापारी ने उस पत्थर को अपने माथे से लगाया और और उस आदमी से पुछा तुम यह कीमती पत्थर कहा से लाये हो. यह तो अमुल्य है. यदि मैं अपनी पूरी सम्पति बेच दूँ इसके बाद भी इस पत्थर की कीमत नहीं चुका सकता।

कहानी से सीख

  1. क्या आप जानते भी हो की आपकी लाइफ कितनी अमूल्य है?
  2. आपके जीवन का कोई मोल नहीं लगा सकता. आ
  3. प वो कर सकते हैं जो किसीने सोचा भी नही होगा।कभी भी दूसरों के नेगेटिव कमैंट्स से अपने आप को कम मत आकियें.
  4. हम अपने आप को कैसे देखते हैं.

Share this Article
2 Reviews