Moral Stories in Hindi For Class 5 महेनती किसान

admin
4 Min Read

Moral Stories in Hindi For Class 5 :दोस्तो मेहनत का फल हमेशा मिठा होता है। जीवन में संघर्षों और कठिनाईयों के बावजूद, मेहनत पर भरोसा और आत्मविश्वास हमें सफलता की ऊँचाइयों तक पहुँचाता है। यह सिखाता है कि सही दिशा में किए गए प्रयास से ही हम अपने लक्ष्यों को प्राप्त कर सकते हैं।

कैसे हो मेरे प्यारे बच्चों किसी ने सच ही कहा है की केवल कड़ी मेहनत ही सफलता की कुंजी है। लाइफ में बिना मेहनत किए हमें कुछ भी हासिल नहीं होता इसी के ऊपर आज हमने एक पोस्ट Moral Stories in Hindi For Class 5 महेनती किसान लिखी है उसे पढ़ने के बाद आपको एहसास हो जाएगा की मेहनत का हमारे जीवन में कितना महत्व है।

Moral Stories in Hindi For Class 5 महेनती किसान : बहुत समय पहले एक किसान हुआ करता था जो बहुत ही मेहनत करके खेती करता था आपको बता दें कि वह अपने खेत में अंगूर की खेती करता था। जैसे-जैसे साल बीतते गए वैसे ही इसकी खेती में भी ज्यादा मुनाफा होने लगा और वह पैसे भी कमाने लगा पैसे के साथ वह किसान बहुत-बहुत सफल हो जाता है।

Moral Stories in Hindi For Class 5 महेनती किसान

किसान के कुल तीन बेटे थे किसान तो खुद बहुत मेहनत करता था लेकिन उसके बेटे बिल्कुल भी मेहनत नहीं करते थे वह पूरा दिन घर में बैठे रहते थे इस बात से लेकर उसके पिताजी को यानी किसान को अपने बेटो के भविष्य की बहुत चिंता रहती थी। समय बिताने के साथ वह किसान बीमार हो गया और उसको यह एहसास होने लगा कि अब उसकी मृत्यु निकट आ रही है।

जब किसान को ऐसा लगा कि मैं मरने वाला हूं तो उसने सभी बेटों को बुलाया और कहां प्रिय पुत्रों मुझे लगता है अब मेरे पास ज्यादा समय नहीं बचा है अभी मैं मरने वाला हूं लेकिन मरने से पहले मैं तुमको एक राज की बात बता रहा हूं मैं “खेत के नीचे खजाना छुपा है” और मेरे मरने के बाद तुम खेत को पूरा खोद डालो ताकि तुम्हें वह खजाना मिल जाए।

Moral Stories In Hindi For Class 5 मेहनत का फल

इतना कहने के बाद वह किसान अपने बेटे को अलविदा कह देता है यानी किसान मर जाता है किसान के मरने के बाद उनके तीनों बेटे ने मिलकर उनका अंतिम संस्कार किया और पूरा खेत खोद दिया इस उम्मीद में की खेत के नीचे जो खजाना है वह हमें मिल जाए।

बेटे खेत का कोई भी हिस्सा छोड़े बिना खजाने की खोज में लग जाते हैं लेकिन उन्हें कुछ नहीं मिलता। किसान ने अपने बेटों को खजाने का झूठा बहाना दिया था ताकि उसके बेटे कुछ मेहनत करें और अपना घर चलाएं और उसके परिणाम में बेटों ने मिलकर वह खेत को खोदा और उनके द्वारा खोदने से अच्छी फसल होती है और भारी कमाई होती है। ये कमाई बेटों को एहसास कराती है कि उनके पिता मरते समय जूठ क्यों बोल गए।

Moral Of The Story कहानी की सिख:

इस कहानी से हमें यह सिखने को मिलता है कि कड़ी मेहनत हमेशा रंग लाती है. मेहनत, संघर्ष, और सकारात्मक सोच से किसान जैसे साधारण व्यक्ति भी अपने जीवन को महत्वपूर्ण रूप से सुधार सकता है। यह भी दिखाता है कि एक व्यक्ति की मेहनत और संघर्ष उसके परिवार को भी प्रेरित कर सकते हैं और साथ में एक बेहतर भविष्य की दिशा में कदम बढ़ा सकते हैं।

दोस्तों याद रखो के कड़ी मेहनत हमेशा रंग लाती है मेहनत का फल हमेशा मीठा होता है चाहे वह आपके इच्छानुसार हो या न हो। मेहनत का फल हमें न केवल अच्छे परिणाम देता है, बल्कि यह हमें एक अधिक समर्पित और सशक्त व्यक्ति बनाता है।

Share this Article
1 Review