Moral Stories in Hindi For Class 5 – अच्छी संगति, बुरी संगति

admin
5 Min Read

नमस्कार दोस्तो स्वागत के आपका हमारी वेबसाइट पर आज आप सबके लिए हमने लिखी है Moral Stories in Hindi For Class 5 – अच्छी संगति, बुरी संगति यह कहानी बेहद दिलचस्त हैं और हमे आशा है की इस कहानी से आपको अच्छी सिख मेले।

हम सब बचपन में Moral Stories in Hindi, Short Story In Hindi, Motivational Story In Hindi  जैसे बहुत सी कहानियां सुन कर बड़े हुए है। और जब बात बच्चो की आती है तो ये कहानियां न सिर्फ कहानियां है बल्कि बच्चों को अच्छा भविष्य देने के लिए भी बहुत मायने रखती है।

दोस्तो हमारे ब्लॉग पर 100 से भी ज्यादा हिंदी कहानियां पड़ी है जिसे आप पढ़ सकते है और साथ ही अपने बच्चो को भी सुना सकते है। तो ज्यादा आपका टाइम न गवाएं पढ़ते है इस मजेदार Hindi Kahani को जिसका नाम है अच्छी संगति बुरी संगति।

 

Short Stories In Hindi एक आम के पेड़ पर दो तोतों ने मिलकर घोंसला बनाया। वे अपने परिवार के साथ रहते थे इनमें दो तोते और उनके दो बच्चों हुआ करते थे, छोटे बच्चो की वे अच्छी देखभाल करते थे। हर रोज की तरह तोता की माँ और पिता सुबह भोजन इकट्ठा करने के लिए बाहर गए और शाम तक घर वापस आ गए।

यह भी पढ़े….

एक दिन, जब उनके माता-पिता अपने घर से दूर थे, तो दोनो तोते अपने घर में खेल रहे थे। इतने में बड़े तोतों को एक शिकारी उठा ले गया। और छोटा तोता भागने में सफल रहा।

Moral Stories in Hindi For Class 5 – अच्छी संगति, बुरी संगति

शिकारी ने दूसरे तोते को पिंजरे में डाल दिया। शिकारी जो कुछ भी बोलता वह शब्द और वाक्यांश तोते ने सीख लिए। वह शिकारी था इसी लिए उसका परिवार असभ्य हुआ करते थे और दयालु शब्दों की ज्यादा परवाह नहीं करते थे।

Short Story In Hindi

कुछ समय बाद एक राहगीर शिकारी की झोपड़ी के बाहर आराम कर रहा था। तोते को बाहर किसी का आभास हुआ और उसने कहा,

  • मूर्ख, तुम यहाँ क्यों आये हो?
  • यहां से चले जाओ!
  • मैं तुम्हारा गला काट दूँगा।

तोते की ऐसी अभद्र भाषा सुनकर यात्री चला गया और चलते-चलते उस आश्रम में पहुँच गया जहाँ दूसरा तोता था। आश्रम वाला तोता बोला!

  • यात्री आपका स्वागत है।
  • आपका स्वागत है यात्री।
  • आप जब तक चाहें यहां रहने के लिए स्वतंत्र हैं।

तोते की मीठी बातें सुनकर यात्री ने तोते को बताया कि उसे ऐसा ही एक तोता शिकारी के घर मिला था और वह बहुत क्रूर है। फिर तोते ने उत्तर दिया, शायद वह मेरा भाई होगा।

Class 5 Moral Stories in Hindi – अच्छी संगति, बुरी संगति

हम दोनों भाई ही है लेकिन इतना बड़ा फर्क है क्युकी मैं साधुओं के साथ रहता हूं और मेरा भाई शिकारियों के साथ रहता है। मैंने यहां रहकर ऋषि की भाषा सीखी, और मेरे भाई ने वहा रहकर शिकारी की भाषा सीखी। हम जिस कंपनी में रहते हैं वह तय करती है कि हम कौन होंगे।

Moral Of The Story कहानी की नीति:

यदि आप एक अच्छा इंसान बनना चाहते हैं तो अच्छी संगति रखें। अच्छी संगति, बुरी संगति आप जैसे व्यक्तियों के साथ रहेंगे वैसे आप बन जाएंगे।

दोस्तों आशा करता हूं कि आपको Class 5 Moral Stories in Hindi पोस्ट से बहुत कुछ नया सीखने को जरूर मिला होगा यदि आप भी चाहते ही को आपका कोई दोस्त या घर परिवार में यह पोस्ट शेयर करने लायक है तो आप जरूर शेयर करे धन्यवाद।

Share this Article
Leave a review